मंत्री बन्ना गुप्ता ने किया जुगसलाई आरओबी का औचक निरीक्षण एवं 24 घंटे के अंदर कार्य प्रारंभ करने के दिए निर्देश

13
  • समस्याओं के निदान के लिए की त्वरित कारवाई
  • जेएनएसी को बोरिंग, पथ निर्माण विभाग को नाली, बिजली विभाग को हाईटेंशन तार की शिफ्टिंग, जुस्को को बावन घर बनाने के दिए निर्देश
  • अनुमंडलाधिकारी धालभूम को दिया निगरानी का आदेश

जमशेदपुर:झारखंड सरकार के स्वास्थ्य एवं आपदा प्रबंधन मंत्री बन्ना गुप्ता ने आज जुगसलाई आरओबी का औचक निरक्षण किया एवं अधूरे पड़े कार्यों की समीक्षा की. उन्होंने ठेकेदार त्रिवेणी कंस्ट्रक्शन के मालिक आदर्श दोदराजका, आनंद दोदराजका एवं उनकी पूरी टीम से आरओबी के अधूरे पड़े कारणों को समझा. ठेकेदार ने बताया कि काम रुकने के मुख्यतः तीन कारण हैं. पहला वहाँ 52 घरों को शिफ्ट किया जाना है़, जिनमें 38 घर आधे अधूरे बने पड़े हैं. पूर्व में इन विस्थापितों को टाटा स्टील द्वारा चूना भट्ठा से लाकर यहाँ बसाया गया था. दूसरा कारण है कि एप्रोच रोड की जद में आने वाले बिजली के तार एवं तीसरा नाली का टेंडर नहीं होना है़. मंत्री महोदय ने धैर्यपूर्वक सारी समस्याओं को सुना एवं त्वरित कारवाई की. उन्होंने उपायुक्त, पूर्वी सिंहभूम सूरज कुमार से वार्ता की एवं अनुमंडलाधिकारी संदीप कुमार मीणा को बुलाकर उनसे टाटा स्टील एवं जुस्को से बात कर तुरंत 52 घरों को तैयार करवाने का निर्देश दिया. इन 52 घरों का रिवाइज इस्टीमेट भी तैयार है़, लेकिन उसके इंतजार में काम ना रुके, मंत्री जी ने यह भी निर्देश दिया कि घरों की गुणवत्ता व सुविधाओं में कोई कमी ना रहे. शौचालय, पेयजल इत्यादि की पूर्ण व्यवस्था करवाई जाए. उन्होंने अनुमंडलाधिकारी को निर्देश दिया कि जमशेदपुर अधिसूचित क्षेत्र समिति द्वारा अविलंब बोरिंग करवाई जाए
उसके बाद मंत्री बन्ना गुप्ता ने बिजली विभाग जमशेदपुर के महाप्रबंधक को फोन कर आरओबी की जद में आने वाले हाई टेंशन तार को शिफ्ट करने का निर्देश दिया. महाप्रबंधक ने तुरंत बिजली विभाग के एसडीओ इमरान मुर्तजा को स्पॉट पर भेजा. एसडीओ ने मंत्री जी को कहा कि हाईटेंशन तार की शिफ्टिंग के लिए पथ निर्माण विभाग से फंड की स्वीकृति प्राप्त नहीं हुई है़, इसीलिए कार्य प्रारंभ नहीं हो पाया है़. मंत्री जी ने निर्देश दिया कि तुरंत कार्य प्रारंभ किया जाए, फंड लेनदेन की विभागीय समस्या के कारण कार्य लंबित ना रहे।
नाली के टेंडर के लिए उन्होंने पथ निर्माण विभाग के सचिव सुनील कुमार से वार्ता की और उनसे नाली का प्राक्कलन तैयार करवाने, घरों का टेंडर करवाने एवं आरओबी के कार्य में जो भी अवरोध है़, उन सबका निदान करवाने को कहा। मौके पर जुगसलाई के काफी लोग एकत्रित हो गए थे, जिनको संबोधित करते हुए मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि ठेकेदार द्वारा अगले चौबीस घंटो के अंदर एप्रोच रोडं का काम प्रारंभ किया जाएगा. इसके लिए जो भी बाधाएं आएंगी, उनको प्राथमिकता के आधार पर निष्पादित किया जाएगा. चैंबर के उपाध्यक्ष जनसंपर्क मुकेश मित्तल के प्रयास पर जुगसलाई आरओबी का निरीक्षण करने पहुंचे मंत्री बन्ना गुप्ता के साथ जुगसलाई के कई लोग उपस्थित थे. जिनमें मुख्य रुप से मुकेश मित्तल, कमल किशोर अग्रवाल, संदीप मुरारका, प्रकाश जोशी, उमेश खीरवाल, राजेश मेंगोतिया लड्डू, राजकुमार मेंगोतिया, सुरेश शर्मा लिपु, दीपक हल्दिया, चैंबर अध्यक्ष विजय आनंद मूनका, मानव केडिया, सत्यनारायण अग्रवाल मुन्ना,  नरेश खीरवाल, राजकुमार बरवालिया, गुलफाम गद्दी, बबलू गद्दी, भूसा गद्दी, अनिल मोदी, किशोर गोलछा इत्यादि उपस्थित थे. सभी ने एक स्वर में मंत्री द्वारा लिए गए स्वतः संज्ञान का अभिनंदन किया एवं उनके द्वारा की गई त्वरित कारवाई की प्रशंसा की।

13 thoughts on “मंत्री बन्ना गुप्ता ने किया जुगसलाई आरओबी का औचक निरीक्षण एवं 24 घंटे के अंदर कार्य प्रारंभ करने के दिए निर्देश

  1. Pingback: 셔츠룸

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

टाटा स्टील ने अब तक का सर्वाधिक समेकित तिमाही एबिटा दर्ज किया

Thu Nov 11 , 2021
टाटा स्टील ने इन्वेस्टमेंट ग्रेड मेट्रिक्स हासिल किया समेकित पीएटी (पैट) में तिमाहीवार 28 प्रतिशत का सुधार हुआ और वर्षवार 7.5 गुणा बढ़ कर इस तिमाही में 12,548 करोड़ का पैट दर्ज किया गया वित्त वर्ष ’22 की पहली छमाही में 11,424 करोड़ रुपये के पुनर्भुगतान के साथ सकल ऋण […]

You May Like

Breaking News